बलिया में एक घंटे की बारिश ने खोली नगर पालिका की पोल, एनएच पानी से डूबा 

 

 

रिपोर्टर अजीत कुमार सिंह बिट्टू जी ब्यूरो चीफ हिंद एकता टाइम्स

 

 

कलेक्ट्रेट, सिविल कोर्ट समेत कई जगह जल भराव

तीन माह पहले फोरलेन किनारे बने नाला की पोल खुली, सड़क पर जलभराव से फजीहत

बलिया। जिले के अधिकांश इलाकों में मंगलवार की दोपहर बाद एक घंटे की बारिश ने शहर में जल निकासी की व्यवस्था की पोल खोल दी। एनएच 31 करीब डेढ़ किलोमीटर डूब गया और कई मोहल्लों में जलभराव हो गया। नगर पालिका की ओर से कुछ दिन पहले नालों के शिल्ट की सफाई कराई गई थी, लेकिन शिल्ट को वहीं पर किनारे रख दिया गया गया था जो बारिश शिल्ट पुन: नालों में चला गया। इतना ही नहीं माल्देपुर से बहेरी तक फोरलेन किनारे बना नाला भी शोपीस बना रहा और सड़क पर जलभराव से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

शहर के बहेरी, चंद्रशेखर नगर, एससी कॉलेज चौराहा, कुंवर सिंह चौराहा, जापलिनगंज आदि जगहों पर घर व दुकान में पानी घुस गया। वहीं कलेक्ट्रेट व सिविल कोर्ट परिसर मानो झील में तब्दील हो गया था। उधर मौसम विभाग पटना की मानें तो अभी तक शुरूआत इस तरह की बारिश अभी लगातार जारी रहेगी। मौसम विभाग पटना के अनुसार 10 जुलाई से मौसम और भी ज्यादा बिगड़ेगा और लगातार मूसलाधार बारिश का दौर जारी रहेगा।

 

पानी में उतरकर किया प्रदर्शन, की नारेबाजी

बलिया। मूसलाधार बारिश के बाद एनएच— 31 से पानी निकासी न होने पर मंगलवार की शाम बहेरी गांव के लोगों ने पानी में उतरकर प्रदर्शन किया। इस दौरान जिला प्रशासन व ठेकेदार के खिलाफ नारेबाजी की। चेताया कि यदि जल्द से जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। बताया कि माल्देपुर से कदम चौराहा तक एनएच—31 के दोनों तरफ जो नाला बनाया गया है, वह एक तो सड़क से उंचा है, दूसरा उसमें होल न होने के कारण तथा नाला जाम होने के कारण पानी निकासी नहीं हो पा रहा है। जबकि तीन माह पहले ही माल्देपुर से बहेरी कटहल नाला तक इसका निर्माण पूरा हुआ। जलभराव से इस इलाके के दुकानदारों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इस मौके पर शमीम खान, अयुब मिस्त्री, अंशु गिरी, आलमगीर शेख आदि रहे।

Related Articles

Back to top button